# योगा से जुड़ी हुई छोटी मगर महत्वपूर्ण जानकारी क्या है? # Little but important information tips related to Yoga

छोटी मगर बड़ी बातें


meditation,yog
meditation

आज के समय में सभी लोग फिट रहने के लिए योग को बहुत महत्व दे रहे हैं. इसलिए कुछ लोग योगा क्लास ले रहे हैं, और कुछ लोग यूट्यूब के माध्यम से योगा सीख रहे हैं . जो लोग योगा क्लास ले रहे हैं उन्हें तो उनके गुरु उन्हें हर छोटी छोटी बात बता देते हैं लेकिन जो विद्यार्थी यूट्यूब, गूगल आदि के माध्यम से योग को सीख रहे हैं ऐसे विद्यार्थियों को हर छोटी छोटी बात के बारे में नहीं पता जोकि आगे चलकर बहुत खतरनाक साबित हो सकता है.
आज यहां पर योग से जुड़ी उन्हीं छोटी-छोटी बातों के बारे में जानेंगे.

1- योग हमेशा शांत, खुली, समतल जगह और सूती आरामदायक कपड़ों में ही करें.

2- कभी भी कोई भी आसन जबरजस्ती नहीं करें, हमेशा अपनी शारीरिक क्षमता के अनुसार ही आसन लगाएं.
               
yoga in right way,yoga teacher
yoga with teacher

3- खुद से कभी भी कोई भी योग नहीं करना चाहिए, हमेशा एक कुशल योग प्रशिक्षक की देखरेख में योग शुरू करें और अपनी प्रशिक्षक को अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जरूर बताएं.

4- योग करते वक्त ज्यादातर लोग अपनी आती और जाति सांसो पर ध्यान नहीं देते जोकि योग विद्यार्थी के लिए सही नहीं है, हमेशा योग करते वक्त अपनी सांसो पर ध्यान दें.

5- योग करते वक्त जब भी सांस लेते हैं तब पेट फूलना चाहिए,और जब सांसो को छोड़ते हैं तब पेट अंदर की तरफ पिचकना चाहिए,
बिल्कुल उसी तरह जिस तरह किसी गुब्बारे के अंदर हवा डालते हैं तब गुब्बारा फूल जाता है और जब हवा निकाल देते हैं तब गुब्बारा पिचक जाता है. यह प्रक्रिया सभी को रोज की दिनचर्या में भी अपनानी चाहिए.

6- योग हमेशा सुबह के वक्त खाली पेट ही करना चाहिए. योग को कभी भी खाना खाने के बाद या दो-तीन घंटे बाद नहीं करना चाहिए, क्योंकि खाना दो-तीन घंटे में नहीं पचता इसलिए कम से कम 5 से 6 घंटे का अंतर होना चाहिए.

7- नए विद्यार्थी जब भी ध्यान लगाते हैं तब अक्सर कर अपनी कमर को सीधा रखना भूल जाते हैं तो उन लोगों के लिए बता दूं की ध्यान लगाते समय उन्हें अपनी कमर को सीधा रखना है.                 
om chanting,dhyan
om chanting

8- ध्यान हमेशा आंखें बंद करके ही लगाया जाता है, और जब भी आंखें खोलते हैं तब आंखें खोलने से पहले अपने दोनों हाथों की हथेलियों को आपस में रगड़ कर हथेलियों को कटोरी नुमा बनाकर अपनी आंखों के ऊपर रखते हैं, लेकिन हथेलियों को आंखों पर रखते समय ध्यान रहे की आंखें हथेलियों से टच नहीं हो, सिर्फ आंखों को हथेलियों में खोलना है, अगर आंखें हथेलियों से टच होती है तो हथेलियों की  गर्मी आंखों को नुकसान पहुंचा सकती है.

9- जब भी शीर्षासन करें तब ध्यान रखें, शीर्षासन करने के बाद एकदम से खड़े ना हो. क्योंकि उस वक्त हमारे शरीर का पूरा रक्त हमारे सर की तरफ हो जाता है, और यदि आप खड़े हो जाते हैं तब रक्त पूरे शरीर में एकदम से फैलने लगता है, उससे हार्ट अटैक की ज्यादा संभावना बढ़ जाती है.

10- महिलाओं को योगा उनकी महावारी के वक्त नहीं करना चाहिए. इस वक्त सिर्फ मेडिटेशन अच्छा माना गया है.

11- शरीर में यदि किसी भी प्रकार की अस्वस्थता है, उस परिस्थिति में योग नहीं करना चाहिए.

12-जब भी कोई आसन लगाएं तो उस आसन का विपरीत आसन अवश्य लगाएं, उससे हमारी मांसपेशियां दोनों तरफ लचीली रहती हैं. जैसे कि अगर आपने धनुरासन किया है तो उससे विपरीत शशक आसन जरूर लगाएं.
                 
dhanurasana with contapose
dhanurasana with contapose

13- योग समाप्त करने के बाद शवासन में थोड़ी देर अवश्य लेटें, जिससे शरीर शिथिल हो जाए और आराम की अनुभूति हो.

Post a Comment

नया पेज पुराने