#पानी का महत्व # मेरा पानी मेरी विरासत# Importance of Water

पानी क्या है?

importance of water,our life
water


पानी एक सामान्य रासायनिक पदार्थ है. जो दो हाइड्रोजन परमाणु और एक ऑक्सीजन परमाणु से बना है. जिस का रासायनिक सूत्र- H2o है.
हम सभी जानते हैं कि हमारी पृथ्वी का 97% भाग जल में डूबा हुआ है, और 3% भाग भूमि पर है .जिसमें से सिर्फ 2% पानी पीने योग्य है. लेकिन महासागरों के जमने से शायद सिर्फ 1% भाग ही पीने योग्य बचा है. जिसे हमें बहुत संभाल कर रखना होगा, क्योंकि पानी के बिना जिंदगी गुजारना असंभव है .अगर हमने पानी की रक्षा नहीं की तो हम और हमारी आने वाली पीढ़ी पानी के लिए तरस जाएगी.
 पानी एक ऐसी संपत्ति है, जिसको हीरे-जवाहरात, सोना चांदी इत्यादि चीजों से भी ज्यादा संभाल कर रखना होगा. पानी के ऊपर तो एक विश्व प्रसिद्ध कहावत भी है-
जल ही जीवन है" 
                       
jal hi jiwan hai,water
no life with out water


यह तो लोगों को पता ही होगा, लेकिन इस जीवन को हम सभी कितना बचा पा रहे हैं, इस बात का पता लगाना संभव नहीं है .क्योंकि लोगों को तो पानी की कीमत ही नहीं पता. क्या लोग पानी को अपनी कीमती चीजों से ज्यादा महत्व देते हैं .जो नहीं देते हैं उनसे पूछो कि क्या वह पानी पिए बिना 1 दिन गुजार सकते हैं. जवाब में आएगा नहीं. तो फिर इस बहते हुए पानी को क्यों नहीं बचाते! आप पानी को बचाओगे तभी तो पानी आपको बचाएगा.

पानी का जीवन पर क्या प्रभाव है?

अगर देखा जाए तो पानी हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण जैविक गुण है. जिसके बिना हमारा जीवन संभव नहीं है. पानी हमारे शरीर के अंदर कई अनावश्यक क्रियाओं को रोककर शरीर को स्वस्थ बनाता है. पानी के ऊपर तो प्रसिद्ध कवि रहीम दास जी ने भी एक दोहा लिखा था.
रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून
पानी गए ना उबरे, मोती मानुष चून.


पानी की कमी के क्या कारण हैं?

               
save water
ruind water

पानी की कमी का सबसे बड़ा कारण इंसान ही है. हमारे पूर्वजों के पास पानी ही जीवन का एकमात्र साधन था. उस समय पृथ्वी पर इंसान बहुत कम थे. और आज के जितने अमीर भी नहीं थे. पुराने समय में लोग भोजन के रूप में कच्चा मांस खाते थे. इसीलिए उन्हें अपना भोजन पकाने में पानी की जरूरत नहीं होती थी .वह लोग पानी सिर्फ पीने के लिए प्रयोग करते थे.
पर आज ऐसा नहीं है. आज पृथ्वी पर अरबों की संख्या में लोग हैं. जैसे जैसे लोगों की संख्या बढ़ रही है,वैसे वैसे पानी की खपत भी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. और लोग पानी का प्रयोग करने के साथ-साथ उसे बर्बाद भी कर रहे हैं. अगर इंसान इसी तरह पानी को बर्बाद करते रहेंगे ,तो शायद भविष्य के लिए पानी ही नहीं बचेगा.

सन 2007 में श्रीलंका के अंतरराष्ट्रीय जल प्रबंधन संस्थान के मूल्यांकन में देखा के दुनिया की बढ़ती हुई जनसंख्या के लिए पानी पर्याप्त है या नहीं .और बताया कि किसानों के लिए पानी की कितनी कमी है ,और कहां-कहां पानी पीड़ित क्षेत्र हैं. और पाया गया कि दुनिया के लगभग एक अरब से अधिक लोग (दुनिया की जनसंख्या का पांचवा हिस्सा) पानी की कमी के क्षेत्र में रहते हैं.जहां पर इनके लिए पर्याप्त पानी नहीं है.
*लोगों को पानी खर्च करने की कुशलता को सीखना होगा.
*कपास की खेती के कारण भी पानी में कमी हुई है.
* दिन प्रतिदिन पेड़ों के कटने से भी पानी की कमी हुई है.
* बढ़ते हुए प्रदूषण की वजह से नदियां दूषित होकर सूख रही हैं.
* दूषित पानी फिर चाहे वह भौतिक प्रदूषण हो, रासायनिक प्रदूषण या बायोलॉजिकल प्रदूषण हो,यह सभी पानी की कमी के कारण हैं.
* ग्लोबल वार्मिंग की वजह से भी पानी में बहुत बड़ी कमी आई है. इसलिए अपने पर्यावरण को बनाए रखें यह सब के लिए बहुत महत्वपूर्ण है.


पानी के क्या उपयोग हैं?

पानी के हमारी जिंदगी में बहुत सारे उपयोग हैं . पानी का उपयोग लोग अलग-अलग प्रकार से करते हैं.जैसे कोई पानी को जमा कर बर्फ बना लेता है. तो कोई उसे पिघला कर पीने योग्य पानी बना लेता है .अगर पानी एक जगह इकट्ठा हो जाता है तो लोग उसे झील के रूप में प्रयोग करते हैं. और अगर पानी बहने लगता है तो वह नदी कहलाती है.कभी पानी को अपनी प्यास बुझाने के लिए प्रयोग करते हैं, तो कभी वह पानी हमारी आंखों से बहते हुए आंसू का रूप ले लेता है. रात में गिरा  हुआ पानी सुबह पेड़ पौधों पर ओस की बूंदे कहलाता है, इस तरह से पानी के अनेक रूप है, और हर जगह अलग-अलग उपयोग है.


पानी को कैसे बचाएं?

* आवश्यकतानुसार पानी खर्च करें.
   अगर पानी की जरूरत ना हो तो नल को बंद कर दे.
* बारिश के पानी को इकट्ठा करें.
* हो सके तो गंदगी को पानी में ना बहाए.
* अपने घर के आस-पास नदी नालों को स्वच्छ रखें,जिससे इंसान तो नहीं कम से कम जानवर ही पानी पी सके.
* बड़ी बड़ी फैक्ट्री से निकलने वाले रासायनिक पदार्थों को पानी में न जाने दें.
                 
save water,water harvesting
water haevesting

मानव शरीर पर पानी का क्या काम है?

* मानव शरीर के हार्मोन बनाने के लिए हमारे मस्तिष्क को पानी की आवश्यकता होती है.
* पानी से पाचन क्रिया ठीक होती है.
* शरीर का तापमान संतुलित रहता है.
* त्वचा को नमी प्रदान होती है. और रंगत निखारने में मदद करता है.
* शरीर की गंदगी को पसीने के रूप में बाहर निकालने में काम करता है.
* हड्डियों के बीच चिकनाहट पैदा करता है.
* सबसे बड़ा काम शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बनाए रखता है.                 

पानी की कमी से क्या-क्या बीमारियां हो जाती हैं?

* पानी की कमी से डिहाइड्रेशन की समस्या हो जाती है.
* मुंह से दुर्गंध आने लगती है.
* मुंह में लार नहीं बनती है.
* शरीर में ऊर्जा की कमी होने लगती है, जिसकी वजह से चक्कर भी आ सकते हैं.
* पेशाब में जलन होने लगती है.
* होठ और नाक सूखने लगते हैं.
* शुगर और दिल के मरीज की हालत बिगड़ने लगती है.
* आंखों से धुंधला दिखाई देने लगता है.

इसलिए पानी को बचाना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि पानी हमारी धरोहर है. अगर हम ऐसे ही पानी खर्च करते रहेंगे ,तो हम अपने बच्चों के लिए पानी कहां से लगाएंगे. 

Post a Comment

नया पेज पुराने